कोशिश करने वालो की हार नही होती

An inspirational poem in Hindi written by Harivansh Ray Bachhan.
 
 
लहरो से डरकर नौका पार नही होती
कोशिश करने वालो की हार नही होती
 
नन्ही चीन्टी जब दाना लेकर चलती है
चढती दीवारो पर, सौ बार फिसलती है
मन का विशवास रगो मे साहस भरता है
चढकर गिरना, गिरकर चढना अखरता है
आखिर उसकी मेहनत बेकार नही होती
कोशिश करने वालो की हार नही होती
 
डुबकिया सिन्धु मे गोतखोर लगाता है
जा जा कर खाली हाथ लौटकर आता है
मिलते नही सहज ही मोती गहरे पानी मे
बढता दुगना उत्साह इसी हैरानी मे
मुठ्ठी उसकी खाली हर बार नही होती
कोशिश करने वालो की हार नही होती
 
असफलता एक चुनौती है, इसे स्वीकार करो
क्या कमी रह गयी, देखो और सुधार करो
जब तक ना सफल हो, नीन्द चैन को त्यागो तुम
सन्घर्ष का मैदान छोडकर मत भागो तुम
कुछ किये बिना ही जय जयकार नही होती
कोशिश करने वालो की हार नही होती
 
– हरिवन्श राय बच्चन
Advertisements
This entry was posted in Others. Bookmark the permalink.

One Response to कोशिश करने वालो की हार नही होती

  1. Lee says:

    This would make a KILLER tattoo! Translation (as I\’m a non-Hindi)? 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s